मनोरंजन

जब अपनी पहचान बताने के लिए बप्पी लहरी को कोट खोलकर दिखाना पड़ा था सोना

गायक संगीतकार बप्पी लहरी ने 69 साल की उम्र में आखिरी सांसे गिनी मुंबई के कैंडी हॉस्पिटल में उनका इलाज पिछले 1 महीने से चल रहा था लेकिन इस हफ्ते बप्पी लहरी जिंदगी की जंग हार गए और उनका निधन हो गया सोमवार को उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया था लेकिन अचानक उनकी तबीयत काफी बिगड़ने लगी और उन्हें दोबारा अस्पताल में भर्ती कराया गया कुछ समय बाद ही उनका निधन हुआ बप्पी लहरी को डिस्को किंग के रूप में भी जाना जाता था इसके साथ ही स्टार सिंगर अपनी अतरंगी ड्रेसिंग सेंस के लिए भी काफी चर्चा में बने रहते थे बप्पी लहरी हमेशा भारी मात्रा में सोने के गहने पहने रहते थे इसके कारण लोग उन्हें काफी पसंद भी किया करते थे साथ-साथ उनको उनके सोने के जेवर के लिए काफी जाना भी जाता था।

बप्पी लहरी कभी भी गोल्ड के बिना नहीं देखे गए और यहां तक कि कई बार उन्हें इस लिए ट्रोल और मजाक भी किया जाता था बप्पी लहरी कई बार अपने इस अंदाज के बारे में बातें किया करते थे उन्होंने कहा कि अगर उनके फैंस उन्हें बिना सोने लगे देखते तो उनसे नाराज हो जाते हैं उन्होंने ऐसा ही एक किस्सा इकोनामिक टाइम्स को दिए इंटरव्यू में बताया जब उन्हें अपनी पहचान साबित करने के लिए अपना कोट खोल कर सोना दिखाना पड़ा था।

अपने इंटरव्यू के दौरान बप्पी लहरी ने एक दिलचस्प किस्सा बताया उन्होंने बताया कि सोना मेरे लिए लकी है मेरी पहचान भी पूरे वर्ल्ड में गोल्ड से ही है मेरी इमेज गोल्डमैन की बन चुकी है एक बार लंदन गया हुआ था वहां एक व्यक्ति ने पहले उनसे पूछा कि क्या वह बप्पी लहरी है जब उन्होंने कहा कि वह बप्पी लहरी ही है तो उस व्यक्ति ने मानने से इनकार कर दिया क्योंकि उसे उन पर बिल्कुल भी सोना नजर नहीं आ रहा था।

बप्पी लहरी ने आगे बताया कि मुझे याद है कि एक बार एक आदमी ने यह मानने से इनकार कर दिया था कि मैं बप्पी लहरी ही हूं क्योंकि मैंने खुद को ठंड से बचाने के लिए अपने सोने के ऊपर कोट पहना हुआ था और वह मेरे सोने के चेन नहीं देख पा रहा था उसने पहले मुझसे पूछा कि क्या मैं बप्पी लहरी हूं फिर मैंने जब बोला कि हां मैं बप्पी लहरी ही हूं तो उसने यह मानने से इनकार कर दिया और कहा कि आपने एक भी सोना नहीं पहना हुआ है फिर मैंने अपना कोट खोला और उन्हें अपने सोने के ज्वेलरी दिखाएं तब जाकर उस शख्स ने माना कि मैं ही बप्पी लहरी हूं।

वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बप्पी लहरी के लिए सोना पहनने का कारण शौक के अलावा मान्यता भी है वह ऐसा मानते हैं कि सोना उनके ऊपर सूट करता है एक इंटरव्यू के दौरान बप्पी लहरी ने बताया कि उनकी मां ने उन्हें सोने की चैन पहनाई थी और उसके बाद ही उन्हें कैसे इंडस्ट्री में मौका मिलने लगा सोने के लिए अपने प्यार के बारे में बात करते हुए बप्पी लहरी ने यह बताया कि सोना मेरा लकी चाम है मेरी मां ने मुझे हरे राम हरे कृष्ण लॉकेट के साथ एक सोना पहनाया था उसके बाद ही मुझे जख्मी फिल्म मिली मेरी पहली ब्लॉकबस्टर जब मेरी मां ने मेरे लिए जंजीर बनवाई तो उन्होंने मुझसे यह कहा कि यह मेरे लिए लकी होगा इसके बाद सफलताओं के साथ मेरे सोने के चैन बढ़ते ही गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker