सेहत

अगर आपको भी लगती है बार-बार बहुत ज्यादा प्यास, तो हो सकती है आपको ये बीमारी

कभी-कभी ऐसा होता है कि हमें बहुत ज्यादा प्यास लगती है। वैसे देखा जाए तो गर्मियों के मौसम में तो सभी को बहुत ज्यादा प्यास लगती है। बार-बार पानी पीने का मन होता है रात को भी सोते वक्त हमारा गला सूख जाता है और हमें पानी की प्यास लगने लगती है लेकिन यह तो भी नॉर्मल बात हैं, लेकिन आज हम बात करने जा रहे हैं कि यदि आपको जरूरत से ज्यादा पानी की प्यास लगती है तो यह आपके लिए नुकसानदायक भी हो सकता है। कहते हुए आपने बहुत लोगों को सुना होगा कि किसी भी चीज की अति सही नहीं होती है बात हमने खानपान में हमेशा ही देखी होगी ज्यादा अत्यधिक मात्रा में किसी भी चीज का सेवन करना आपको बहुत से नुकसान भी पहुंचा देता है। यही बात पानी पर भी लागू होता है जो हमारे जीवन के लिए बहुत जरूरी है पानी पिए बिना हम अपने जीवन की कल्पना ही नहीं कर सकते। अगर आपको जरूरत से ज्यादा प्यास लगती है या फिर आप अत्यधिक पानी पीते हैं तो आपको समझ लेना चाहिए कि शायद इसके पीछे कुछ गंभीर बीमारियां भी हो सकती हैं तो आज इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर कौन सी बीमारियों के संकेत देता है बार-बार गले का सूखना।

जानिए कितना पानी पीना है हमारे लिए जरूरी
पानी पीना भी हमारे लिए बहुत जरूरी है ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करना भी बहुत जरूरी है लेकिन कई मेडिकल रिसर्च में इस बात को सामने लाया गया है। कि एक सेहत में इंसान के लिए प्रतिदिन और शब्दों से 3 लीटर का पानी जरूरी होता है विशेष स्थितियों में पानी किया मात्रक घटा या बढा सकते है। अत्यधिक श्रम करने पर हमें ज्यादा पानी की जरूरत लगती है लेकिन कई बार जब हम आराम करते रहते तो हमें कम पानी की जरूरत लगती है लेकिन जरूरत से अत्यधिक पानी का सेवन करना भी आप को नुकसान पहुंचा सकता है। बहुत ज्यादा प्यास लगने को मेडिकल टर्म में पॉलिदीपशिया कहा जाता है। पॉलिदीपशिया की अवस्था में व्यक्ति जरा से ज्यादा पानी पीने लगता है जरा से ज्यादा पानी पीने की वजह से शरीर में सोडियम की कमी उल्टी जी मतलाना जैसे लक्षण सामने आने लगते हैं इसके अलावा और भी बहुत सी गंभीर बीमारियों के संकेत देता है जो आज शीतल में हम आपको बताएंगे।।

डायबिटीज का हो सकता है कारण
यदि आपको बार-बार बहुत अत्यधिक मात्रा में पानी का व्यास लगता है तो आपको समझ लेना चाहिए कि शायद आपको डायबिटीज किसी का तो डायबिटीज में खून में शुगर की मात्रा बढ़ जाती है जिसको किडनी आसानी से जान नहीं पाता यह शुगर यूरिन के साथ बाहर निकलती रहती है जिसकी वजह से शरीर में पानी की कमी होती जाती है यही बार-बार प्यास लगने की वजह है

डिहाइड्रेशन
यदि आपको बार-बार पानी का प्यास लग रहा है तो आपको समझ लेना चाहिए कि आपके शरीर में पानी की कमी हो गई है या फूड पॉइजनिंग हीटवेव डायरिया इंफेक्शन फीवर अब रनिंग की वजह से भी हो सकता है इसके लक्षण है बार-बार प्यास लगना मुंह का सूखना थकान उल्टी बेहोशी जैसे चीजों को ही डिहाइड्रेशन कहते हैं।

एंजाइटी
एंग्जाइटी की वजह से भी इंसान को बार-बार प्यास लगने की परेशानी होती है धड़कन का बढ़ जाना बेचैनी और घबराहट का महसूस होना एंग्जाइटी कहलाता है एंजाइटी में मुंह भी सूखने लग जाता है कुछ एंजॉय मुंह में बनने वाली लार की मात्रा से भी कमी ले आते हैं इस कारण से बहुत ज्यादा प्यास लगती है।

थकान और सर दर्द होना
यदि आपको ज्यादा थकान और सिर दर्द और आंखों में धुंधलापन और दिल की धड़कन तेज होने वाली जैसे लक्षण है तो यह ब्लड शुगर लेवल के ही लक्षण है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker