सेहत

दही या छाछ, जाने गर्मी के मौसम में क्या पीना होता है फायदेमंद

गर्मियों का मौसम आ गया है और अब हम ऐसे चीजों का सेवन ज्यादा करेंगे जो हमारे शरीर को ठंडा प्रदान करें। गर्मियों के मौसम में दही और छाछ जैसी चीजों का सेवन अत्यधिक मात्रा में किया जाता है क्योंकि यह शरीर को जरूरी पोषक तत्व प्रदान करने के साथ-साथ शरीर को ठंडक भी प्रदान करते हैं। पेट को शांत रखने के लिए भी फायदेमंद है। दही और छाछ दोनों ही हमारे पेट के लिए बहुत फायदेमंद है दोनों ही दूध से बने उत्पादों में से एक है। जिसमें प्रोटीन, कैल्शियम और बहुत से ऐसे पोषक तत्व मौजूद है जो हमारे शरीर को बहुत फायदा पहुंचाते हैं लेकिन आज हम इन दोनों में ही ऐसे टॉपिक की बात करने जा रहे हैं जिसे जानने की जिज्ञासा बहुत लोगों के मन में रहती है। अक्सर लोगों के मन में यह सवाल उठता रहा है कि दही और छाछ में कौन सा चीज ज्यादा फायदेमंद है ऐसे में इस बात के बारे में आज हम आप को पूरा सच बताने जा रहे हैं।

जाने क्या कहते हैं एक्सपर्ट
आपको हम बता दें कि एक्सपट्र्स ओं न्यूट्रिशन हमें अच्छे स्वास्थ्य के लिए विभिन्न प्रकार के लाभ और फायदे बताते हैं ऐसे में आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉक्टर ऐश्वर्या संतोष के अनुसार बहुत से लोग इस बात को कहते हैं कि दही पतला हो जाता है तो वह आज बन जाता है इसमें कुछ खास अंतर नहीं होता है भले ही दही और छाछ दोनों में लगभग समान पोषक तत्व मौजूद हैं लेकिन आपको यदि हम बताएंगे कि यह दोनों एक जैसे नहीं होते इन दोनों में बहुत अंतर पाया जाता है लेकिन जब आप इन के फायदे की बात करते तो उसमें एक बड़ा अंतर है तो आगे इस आर्टिकल में हम आपको इसके बारे में पूरा बाद बताएंगे।

जाने आखिर क्या फर्क है दही और छाछ में
देखा जाए तो दही और चार दोनों ही एक जैसे ही होते हैं। इनमें कोई खास अंतर नहीं पाया जाता लेकिन आपको हम बता दें कि दही में पानी की मात्रा थोड़ी कम होती है लेकिन जब दही में छाछ बनाई जाती है तो छाछ को पतला करने के लिए इसमें काफी हद तक पानी मिलाया जाता है। जिससे यह थोड़ा ज्यादा पतला हो जाता है लेकिन सिर्फ यही अंतर नहीं पाया जाता इसमें और भी बहुत से अंतर पाए जाते हैं। छाछ बनाते समय दही को मथ कर उसमें से मक्खन निकाला जाता है। आयुर्वेद के अनुसार छाछ बनाने के दही को माथा जाता है। मथा हुआ दही ही छाछ होता है तो यह छाछ को कुछ अतिरिक्त गुण प्रदान कर देता है। छाछ को मथने से उसमें प्रोटीन और शरीर के लिए और भी न्यूट्रीशन और शरीर में खाने को पचाने में भी बहुत ज्यादा आसानी हो जाती है।

दही और छाछ दोनों में कौन ज्यादा फायदेमंद

पाचन के लिए कौन है ज्यादा फायदेमंद
दही और छाछ दोनों ही पाचन और पेट के लिए बहुत अच्छे होते लेकिन यदि बात की जाए दोनों में से किसी एक की तो आपको हम बता दें कि छाछ बचाने में बहुत ज्यादा आसानी से पच जाता है। जबकि दही को पहचानने में थोड़ा समय ज्यादा लगता है आयुर्वेद के अनुसार भी दही हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है लेकिन दही के पुण्य लाभ प्राप्त करने के लिए मजबूत पाचन होना बहुत जरूरी है जबकि छाछ में ऐसा बिल्कुल भी नहीं है।

किसमें पाया जाता है सबसे ज्यादा पोषक तत्व
आपको हम बता दें कि दही अच्छा दोनों ही पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं लेकिन जब दही से छाछ बनाया जाता है तो इसमें कुछ रोचक तत्व की मात्रा ज्यादा बढ़ जाती है। जांच में कैल्शियम, विटामिन B12, जिंक, राइबोफ्लेविन और प्रोटीन जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं। यह आपकी हड्डियों को स्वस्थ रखने के साथ ही कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी बहुत ज्यादा मददगार होता है शायद कैंसर के जोखिम को कम करने के लिए और तनाव को लड़ने में भी मदद करता है इसलिए था ज्यादा अच्छा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker