सेहत

बुखार को कम करने के लिए आजमाएं इन आयुर्वेदिक उपचारो को, तुरंत मिल जाएगा आराम

कभी-कभी हमारे साथ यह समस्या होती है कि हमें बुखार तो पकड़ लेता है और वह बुखार उतरने का नाम ही नहीं लेता ऐसा हमेशा मौसम के बदलाव की वजह से ठंडक बढ़ने की वजह से होता है। अभी कुछ सालों से यह परेशानी करो ना के संक्रमण के वजह से भी देखने को मिल रही है ऐसे में जब शरीर का टेंपरेचर बढ़ता है तो इसे ही हम बुखार कहते हैं बुखार होना एक आम बात है लेकिन बुखार यदि बढ़ जाए तो यह आपके लिए अनेक प्रकार की परेशानी खड़ी कर सकती है। यदि बुखार आपके सर पर चढ़ जाए तो यह बहुत ही घातक साबित हो सकती है आपको हम बता देना चाहते हैं कि बुखार होने तो एक आम बात है लेकिन बुखार में हमें सर दर्द शरीर दर्द बदन दर्द थकान चक्कर धन कपकपी जैसी चीजों से जूझना पड़ता है ऐसे में अपने बुखार को दूर करने के लिए हम डॉक्टर के पास जाते और तरह-तरह की दवाइयों का सेवन करते हैं लेकिन कई बार इसके बावजूद भी आपके शरीर का बुखार उतरने का नाम ही नहीं लेता। यदि या बुखार लंबे समय से हो रही है तो यह आपके शरीर को बहुत ज्यादा कमजोर बना देती है इन पावर को भी कर देती है ऐसे में बुखार के को ठीक करना अत्यंत आवश्यक हो जाता है कई बार शरीर का तापमान 102 से 103 डिग्री तक भी पहुंच जाता है, और दवाइयों का सेवन करने के बावजूद भी यह तापमान कम होने का नाम नहीं लेता है या बहुत ही ज्यादा गंभीर स्थिति होती है इसे बहुत ही ज्यादा तेज बुखार कहा जाता है बॉडी टेंपरेचर इसलिए भी बढ़ता है। जब शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली कई तरह के बैक्टीरिया वायरस से लड़ने के लिए मेहनत करता है बुखार होने पर शरीर के तापमान को दूर करने के लिए कुछ आयुर्वेदिक दूसरों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। प्राचीन काल से आयुर्वेद हमारे लिए बहुत ही ज्यादा अच्छा साबित हो रहा है ऐसे में आयुर्वेदिक के बचाए नियमों और उपायों को करने से हम आसानी से घर पर ही अपने बुखार को दूर कर सकते हैं इसके कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होते हैं तो आजकल में हम आपको बुखार को ठीक करने के आयुर्वेदिक उपचार के बारे में बताने जा रहे हैं।

बुखार को दूर करने के लिए अपनाएं इन आयुर्वेदिक उपचारो को

अगर आपको अचानक ही बुखार पकड़ लिया है या फिर बहुत लंबे समय से आप बुखार से परेशान हैं तो आप कुछ घरेलू और आयुर्वेदिक उपचार ओं का अपना सकते इसे अपनाने से आपका बुखार तुरंत ही ठीक हो जाएगा तो चलिए जानते हैं—

चंदन घिस कर लगाए
आपको जब बहुत अधिक मात्रा में बुखार हो जाए तो आप एक चंदन को खींचकर मरीज के नाभि और पैरों के तलवे पर अच्छी तरह से लगाएं ऐसा करने से धीरे-धीरे बुखार कम होने लग जाएगा।

इस बात का ध्यान रखें
आपको यदि बुखार है या फिर बुखार जैसा लग रहा है तो आपको कभी भी पंखे की हवा में नहीं सोना चाहिए हमेशा बुखार होने पर कंबल ओढ़ कर ही आपको लेटना की कोशिश करनी चाहिए ऐसा इसलिए कया किया जाता है ताकि आपके शरीर से पसीना आया और आपका बुखार इस तरह से कम हो।

मसालेदार चीजों का सेवन ना करें
यदि आप को बुखार लगता है और बहुत लंबे समय से यदि आप को बुखार है तो आपको खाना थोड़ा हल्का करना चाहिए कभी भी हैवी तेल मसाले से भरा चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए बुखार कमजोर पाचन शक्ति के कारण भी आता है इसलिए हल्का भोजन आपके पाचन शक्ति को सुधार करेगा इसलिए आपको हल्के पूजन का ही सेवन करना चाहिए।

अनार के रस का कारे सेवन
यदि आपको बहुत लंबे समय से बुखार है और बुखार कब दूर करना चाहते हैं तो आपको अनार का रस दिन में दो से तीन बार पीना चाहिए ऐसा करने से आप कब खार कम होने लगेगा अनार के बीज को निकाल कर एक कपड़े में उसे डालें और अच्छी तरह से निचोड़ कर रख निकाल मिक्सी में डालकर रचना निकाले ठंड के समय में जो काम है तो हल्का हल्का गुनगुना करके इसे पिलाएं।

पिये काढ़ा
आप तमाम तरह के काढ़े बीपी का बुखार को दूर कर सकते हैं ऐसे में तुलसी का काढ़ा सबसे ज्यादा गुणकारी होता है इसमें आप दालचीनी पाउडर मिलाकर भी इसका सेवन कर सकते हैं तो उसी में बैक्टीरियल इन्फेक्शन को रोकने के गुण पाए जाते हैं इसलिए यह बुखार को कम करने के लिए बहुत कारगर साबित होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker