धर्म संसार

बहुत किस्मत वाले होते है ये लोग जिनके हाथों में होते है ये रेखाएं

हस्तरेखा शास्त्र में हाथ की लकीरो का बहुत बड़ा महत्व है। ऐसा कहा जाता है कि हस्तरेखा ज्योतिष की ऐसी जबरदस्त विद्या है जिसमें लोगों के भविष्य का आसानी से अनुमान लगाया जा सकता है। हस्तरेखा बहुत प्रकार की होती है जो हमारे भविष्य का अनुमान लगाने में काम आती है। हाथ की लकीरों में कुछ मुख्य लकीर होती है जिससे हम भविष्य का अनुमान लगा सकते हैं।

ऐसे ही एक लकीर होती है जिसे मकर रेखा जा मछली रेखा कहा जाता है। मकर रेखा बहुत ही शुभ रेखा होती है जो बहुत ही कम लोगों के हाथों में पाई जाती है। यह खुशहाली का प्रतीक होती है। लाखों लोगों में कोई एक होता है जिसमें यह रेखा पाई जाती है।

जानिए कुछ हाथ की लकीरें जिनका हस्तरेखा शास्त्र में विशेष महत्व है–

1.मकर रेखा
हस्तरेखा शास्त्र में मकर रेखा को बहुत ज्यादा ही शुभ माना जाता है मकर रेखा को मछली रेखा के नाम से भी जाना जाता है। यह हमारे हाथों की सबसे महत्वपूर्ण रेखा होती है लेकिन यह रेखा हर किसी के हाथों में नहीं होती। लाखों में से एक या दो लोग होते हैं जिनकी हथेली में मकर रेखा मिलती है। ऐसे लोग बहुत ही ज्यादा भाग्यशाली होते हैं इनके जीवन में कभी भी किसी भी चीज की कमी नहीं होती। यह रेखा खुशहाली और उन्नति का प्रतीक होती है यह बहुत कम लोगों के हाथों में पाई जाती है।

जिन लोगों के हाथों में रेखा पाई जाती है भविष्य में उनका जीवन बहुत उज्जवल होता है। साथ ही विदेश की यात्रा के योग भी होते हैं ऐसे लोगों के घूमने के काफी मौके मिलते हैं अगर किसी महिला के हाथों में यह रेखा पाई जाती है तो वह महिला बहुत ही ज्यादा लकी मानी जाती है महिला की हथेली में मकर रेखा होने का अर्थ है कि उसके जीवन में बहुत ही पैसा है।

कहां पाई जाती है यह रेखा
मकर रेखा हथेली के निचले हिस्से में पाई जाती है। यह रेखा थोड़ी मछली की तरह होती है कुछ लोगों के हाथों में या रेखा सूर्य रेखा के पास होती है। सूर्य रेखा के पास अगर मकर रेखा उपस्थित होती है तो इसका मतलब होता है कि ऐसे लोगों का बचपन बहुत ही सुख सुविधा से बीता है।

2.जीवन रेखा
हस्थ रेखा शास्त्र में जीवन रेखा भी बहुत महत्वपूर्ण होती है इस रेखा से यह पता लगाया जाता है कि जीवन में कौन-कौन सी घटनाएं होगी जिन लोगों के हाथ में रेखा बहुत गहरी और लंबी होती है, उनकी सेहत बहुत अच्छी बनी रहती है। वहीं दूसरी ओर यदि यह रेखा पतली और छोटी है तो सारी परेशानियों की तरफ भी इशारा करते हैं।

3.सूर्य रेखा
हस्तरेखा शास्त्र में सूर्य रेखा का मतलब यह है कि कोई व्यक्ति कितना रचनात्मक है और उस के अंदर आत्मविश्वास और योग्यता कितनी है इस बात का पता लगाया जाता है। बहुत से लोगों में यह रेखा नहीं होती है लेकिन जिन लोगों के हाथ में यह रेखा होती है उनको बहुत अधिक संवेदनशील माना जाता है। ऐसे लोग कभी भी सही गलत में फर्क नहीं कर पाते और जिन लोगों के हाथों में बहुत कम रेखाएं होती हैं वह अपनी लगन के पक्के होते हैं लेकिन जिद्दी भी काफी होते हैं ऐसे रेखा वाले लोग सोच समझकर ही कोई फैसला लेते हैं और आसानी से किसी पर भरोसा नहीं कर पाते।

4.हृदय रेखा
हस्तरेखा शास्त्र में हृदय रेखा को इंसान के स्वभाव का पता लगाया जाता है। हाथों में सीधी और छोटी रेखा होती है इसका मतलब है कि व्यक्ति स्वार्थी है वही किसी व्यक्ति की रेखा मुड़ी हुई होती है तो समझ ले उस व्यक्ति की इच्छा है बहुत ज्यादा ही प्रबल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker